सिंहदेव ने आयुष्‍मान भारत को नकारा, कहा- हम देंगे बेहतर सर्विस

सिंहदेव ने आयुष्‍मान भारत को नकारा, कहा- हम देंगे बेहतर सर्विस

पीएम ने इसे पंडित दीन दयाल उपाध्याय की जयंती पर 25 सितंबर से देशभर में लागू किया था।

रायपुर । प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही रमन सरकार और केंद्र सरकार की नीतियों में खामियों खोजी जा रही है। अब प्रदेश के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री टीएस देव ने कहा कि आयुष्‍मान भारत को नकार दिया है। उन्‍होंने कहा कि आयुष्मान भारत बीमा आधारित मॉडल है जिसमें करदाताओं का पैसा बीमा कंपनियों को दिया जाता है।

बीमा कंपनियों के बजाय जहां कुछ अनियमितताओं की रिपोर्ट मिलती है, हमें अपने बुनियादी ढांचे के आधार पर लोगों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवा प्रदान करनी चाहिए। टीएस देव ने कहा कि हम इससे बेहतर सर्विस देंगे। छत्‍तीसगढ़ में अभी ज्‍यादा इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर को बढ़ाने की जरूरत नहीं है।

हम अभी 170 सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र चला रहे हैं। हम इसे जरूरत के हिसाब से बढ़ा सकते हैं। सभी राज्‍य हेल्‍थ वकर्स से कवर हो रहे हैं। हमारे मुख्‍यमंत्री ने जरूरत के मुताबिक मदद की बात कही है। बता दें कि आयुष्‍मान भारत योजना मोदी सरकार की महत्‍वाकांक्षी योजना है। मोदी सरकार ने इसे बेहद बृहत पैमाने पर देश में इसे लांच किया था।

आयुष्मान भारत योजना देश के गरीब तबके के लोगों के लिए लाया गया था। यह एक हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम है। इस योजना के तहत देश के 10 करोड़ परिवारों को सालाना 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा मिल रहा है। पीएम ने इसे पंडित दीन दयाल उपाध्याय की जयंती पर 25 सितंबर से देशभर में लागू किया था।

सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना के मुताबिक, एक अनुमान लगाया गया है कि ग्रामीण इलाके के 8.03 करोड़ और शहरी इलाके के 2.33 करोड़ गरीब परिवारों को इससे लाभ होगा। लगभग 50 करोड़ लोग इस योजना के दायरे में आएंगे। इसके लिए नेशनल हेल्थ एजेंसी ने नेशनल हेल्थ इंश्योरेंस के तहत आयुष्मान भारत स्वास्थ्य योजना की वेबसाइट और हेल्पलाइन को लांच किया गया है।इसमें मदद के हेल्पलाइन पर बात करने के अलावा अस्पतालों में आयुष्मान मित्र से भी मदद ले सकते हैं।

bhupendra

Next Post

राजनीतिक दलों को वोटिंग से 48 घंटे पहले तक जारी करना होगा घोषणा पत्र- चुनाव आयोग

Sat Mar 16 , 2019
अब राजनीतिक दलों को अपना घोषणा पत्र वोटिंग से 48 घंटे पहले तक जारी करना होगा. एक से अधिक चरण वाले चुनाव में भी प्रत्येक चरण के मतदान से पहले 48 घंटे की अवधि में घोषणापत्र जारी नहीं किये जा सकेंगे. – नई दिल्ली: चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों के लिए […]

You May Like

Breaking News