कॉलेज का समय कैरियर को दिशा देने वाला होता है …..पुलिस अधीक्षक

*कॉलेज का समय कैरियर को दिशा देने वाला होता है …..पुलिस अधीक्षक*

 

 *एम.जी. कॉलेज खरसिया में पुलिस महिला रक्षा टीम का जागरूकता कार्यक्रम*

 

 *सेंट जॉन्स इंग्लिश मीडियम स्कूल में गुड टच बैड टच की क्लास*

आज दिनांक 11.02.2020 को पुलिस महिला रक्षा टीम द्वारा खरसिया थाना क्षेत्र अंतर्गत महात्मा गांधी शासकीय कला एवं विज्ञान स्नातकोत्तर महाविद्यालय में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया था । जागरूकता कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं को मोटिवेट करने स्वयं पुलिस अधीक्षक श्री संतोष कुमार सिंह पहुंचे थे ।

पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा अपने उद्बोधन में छात्र-छात्राओं से बोले कि कॉलेज के समय से ही आपके करियर को दिशा मिलती है इसलिए अपने करियर पर फोकस करें, मनोबल को कम ना होने दें और अपने लक्ष्य को पाने के लिए कड़ी मेहनत करें । उन्होनें कहा कि युवा वर्ग कॉलेज बाईक, स्कुटी से कॉलेज आना जाना करते हैं ओव्हर स्पीड वाहन न चलाने, हेलमेट पहनने के लिए प्रेरित कर ट्रैफिक रूल का पालन स्वयं करें तथा अपने फैमिली मेंबर्स को भी ट्रैफिक रूल का पालन करावें । साइबर क्राइम के संबंध में बताते हुए पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा सोशल साईड पर बरती जाने वाली सावधानियों को बताते हुए अपने पर्सनल डिटेल किसी से शेयर ना करने की सलाह दी गई । इस दौरान पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा कॉलेज में खेल, एन.एस.एस, एनसीसी तथा रंगोली चित्रकला सेव वाटर आदि विविध प्रतियोगिताओं में विजयी छात्र-छात्राओं को प्रशस्ति पत्र देकर भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी गई । कार्यक्रम में पुलिस अनुविभागीय अधिकारी खरसिया श्री पितांबर पटेल, IUCAW उप पुलिस अधीक्षक श्रीमती गरिमा त्रिवेदी, पुलिस महिला रक्षा टीम प्रभारी निरीक्षक संतोषी ग्रेस, महिला प्रधान आरक्षक मंजू मिश्रा एवं महाविद्यालय के प्राचार्य, शिक्षकगण तथा छात्र-छात्राएं मौजूद थे ।

*संवेदना कार्यक्रम* अंतर्गत जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन खरसिया थाना क्षेत्र के सेंट जॉन्स इंग्लिश मीडियम स्कूल में आयोजित किया गया था ।

महिला रक्षा टीम प्रभारी निरीक्षक संतोषी ग्रेस अपने स्टाफ के साथ कार्यक्रम के लिये पहुंची थी । स्कूलों में छात्राओं को जागरूक करते हुए टी.आई. ग्रेस और प्रधान आरक्षक मंजु मिश्रा द्वारा बताया गया कि किसी भी कीमत पर अवांछनीय तत्वों की हरकतें बर्दाश्त न करें, विरोध करें और बिना किसी देरी व झिझक के अपने पालकों, शिक्षकों या पुलिस को बतायें । गलत करने वालों का शुरू में प्रतिकार नहीं करने पर ही उनका मनोबल बढता है । टी.आई. ग्रेस ने छात्राओं को बतायी कि महिलाओं व बच्चों को लेकर जिले की पुलिस काफी संवेदनशील है । कानून में ऐसे अपराधों में अपराधियों को कठोर सजा का प्रावधान है, बेहतर समाज के लिये पुलिस को सहयोग करें । छोटे बच्चों को बताई कि कभी किसी प्रकार के लोभ व लालच में न आएं । कार्यक्रम में महिला रक्षा टीम के सदस्यों द्वारा भीड़-भाड़, बस, ट्रेन में बचाव की जानकारी दिये । छात्राओं को सायबर क्राईम, सेल्फ डिफेंस, बैड टच, गुड टच के बारे में विस्तार पूर्वक बताया गया साथ ही पुलिस महिला रक्षा टीम के कार्यों की विस्तृत जानकारी दी गई । उन्होने कहा कि किसी भी प्रकार के अपराध की सूचना तुरंत पुलिस को डॉयल 112, 100 (पुलिस कंट्रोल रूम) व 1091 (महिला हेल्पलाइन) एवं 1098 (चाइल्ड हेल्पलाइन) सहित अन्य माध्यमों से जरूर दें । पुलिस महिला रक्षा टीम द्वारा लड़कियों को आत्मरक्षा की दिशा में आगे बढ़ने की प्रेरणा दी गई । कार्यक्रम में करीब 1650 बच्चों ने भाग लिया ।

bhupendra

Next Post

खरसिया में लगाई गई पुलिस की चौपाल* ✅ *थाना खरसिया, भूपदेवपुर, छाल क्षेत्र के निगरानी, गुंडा बदमाशों ने लगाई एस.पी. के सामने हाजिरी*

Tue Feb 11 , 2020
✅ *बदमाशों को दी गई हिदायत शिकायत मिलने पर खैर नहीं* ✅ *100 पुलिसमित्रों को वितरण किया गया हेल्मेट*   पुलिस अधीक्षक श्री संतोष कुमार सिंह द्वारा पुलिस नियंत्रण कक्ष में जिले के सभी थाना/चौकी एवं विभिन्न शाखाओं की संयुक्त रूप से समीक्षा बैठक लिया करते हैं । गत क्राइम मीटिंग में […]

You May Like