ये हैं ठोस वजहें, जिनके आधार पर कोर्ट ने रिया को 14 दिन के लिए भेजा न्यायिक हिरासत में

Rhea Chakraborty Arrest: ये हैं ठोस वजहें, जिनके आधार पर कोर्ट ने रिया को 14 दिन के लिए भेजा न्यायिक हिरासत में

Rhea Chakraborty Arrest: ये हैं ठोस वजहें, जिनके आधार पर कोर्ट ने रिया को 14 दिन के लिए भेजा न्यायिक हिरासत में

रिया चक्रवर्ती को 14 दिन जेल में रहना होगा (File Photo)

Rhea Chakraborty Arrest: बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मामले में एनसीबी ने रिया को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में लिया है. रिया चक्रवर्ती 22 सितंबर तक जेल में बंद रहेंगी.

मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत की मौत (Sushant Singh Rajput Death Case) के ड्रग्स से जुड़े केस में एनसीबी (NCB) ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है. एनसीबी को रिया की न्यायिक हिरासत मिल गई है. रिया को 14 दिन के लिए 22 सितंबर तक जेल में रहना होगा. रिया को मंगलवार की रात को एनसीबी के दफ्तर में ही रखा गया. बुधवार को उन्हें जेल भेज दिया जाएगा. बुधवार को रिया के वकील जमानत के लिए ऊपरी अदालत का दरवाजा खटखटा सकते हैं.

इस मामले में एनसीबी ने जो रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) के लिए न्यायिक हिरासत मांगी है उसका आधार रिया, शौविक चक्रवर्ती, दीपेश सांवत, सैम्युअल मिरांडा का बयान है. एनसीबी का कहना है कि ये सिर्फ शुरुआती जांच है. ऐसे में इस वक्त आरोपियों के बयान पर ही काम होगा. इसमें कुछ गलत नहीं है. बयान में चारों लोगों ने सुशांत के शामिल होने की बात कही है.

एनसीबी को मिली जानकारी के मुताबिक शौविक ड्रग्स खरीदने के लिए ड्रग बेचने वालों को मैनेज करता था. पूछताछ में पता चला है कि शौविक के कहने पर ड्रग सप्लाई होता था जिसका इस्तेमाल सुशांत करता था. पूछताछ में ये भी पता चला है कि सुशांत भी ड्रग्स खरीदने में शामिल था. पूछताछ में पता चला है कि रिया सुशांत के लिए ड्रग्स खरीदती थी. यह भी मालूम हुआ है कि कैसा ड्रग्स चाहिए ये भी रिया ही बताती थी. रिया और सुशांत मिलकर ड्रग्स का पेमेंट करते थे.

bhupendra

Next Post

स्कूल परिसर के 50 मीटर के दायरे में नहीं होगी जंक फूड की बिक्री, विज्ञापन पर भी पाबंदी

Tue Sep 8 , 2020
स्कूल परिसर के 50 मीटर के दायरे में नहीं होगी जंक फूड की बिक्री, विज्ञापन पर भी पाबंदी स्कूल परिसर के 50 मीटर दायरे, कैंटीन में जंक फूड की बिक्री, विज्ञापन पर पाबंदी खाद्य नियामक भारतीय खाद्य संरक्षा और मानक प्राधिकरण/एफएसएसएआई (FSSAI) ने बच्‍चों को लेकर एक अहम आदेश जारी […]

Breaking News