कंगना रनौत के ऑफिस पर BMC की कार्रवाई पर शरद पवार का बड़ा बयान

कंगना रनौत के ऑफिस पर BMC की कार्रवाई पर शरद पवार का बड़ा बयान

मुंबई। राकांपा प्रमुख ने बुधवार को अभिनेत्री का नाम लिए बिना कहा कि उनके बयानों को अनुचित महत्व दिया जा रहा है।पवार ने कहा कि लोग उनकी टिप्पणियों को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि इस सप्ताह के शुरू में मिली धमकी को वे गंभीरता से नहीं लेते हैं।

पवार ने बुधवार को कहा कि उन्होंने अखबारों में पढ़ा था कि वह अवैध निर्माण है लेकिन उन्हें कंगना के दफ्तर के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि मुझे उनके (कंगना रनौत) दफ्तर के बारे में कोई जानकारी नहीं है, लेकिन मैंने अखबारों में पढ़ा था कि वह अवैध निर्माण है। जो भी हो, मुंबई में अवैध निर्माण कोई नई बात नहीं हैं। अगर बीएमसी नियमों के हिसाब से काम कर रही है तो ये सही है। इससे पहले यह खबरें आई थीं कि शरद पवार बीएमसी की इस कार्रवाई से नाखुश हैं और उन्होंने कहा है कि इससे विपक्ष को बोलने का मौका मिलेगा।
कंगना हाल ही में उस समय विवादों में घिर गईं जब उन्होंने मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से की और कहा कि उन्हें नगर की पुलिस से ज्यादा डर लगता है।
पवार ने कहा कि हम ऐसे बयान देने वालों को अनुचित महत्व दे रहे हैं। हमें देखना होगा कि लोगों पर इस तरह के बयानों का क्या प्रभाव पड़ता है। उन्होंने कहा कि मेरी राय में, लोग (ऐसे बयानों को) गंभीरता से नहीं लेते हैं।

पवार ने कहा कि महाराष्ट्र और मुंबई के लोगों को राज्य और नगर की पुलिस के काम के संबंध में ‘वर्षों का अनुभव’ है। उन्होंने कहा कि लोग पुलिस के काम को जानते हैं। इसलिए हमें इस पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है कि कोई क्या कहता है।

हाल ही में मिली धमकी के बारे में पूछे जाने पर पवार ने कहा कि मुझे अभी-अभी धमकीभरे कॉल का रिकॉर्ड दिया गया है और कॉल कहां से किए गए थे। विगत में भी मुझे कॉल आए हैं। हम इसे गंभीरता से नहीं लेते हैं।
शिवसेना ने दिखाए काले झंडे : बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत अपने गृह राज्य हिमाचल प्रदेश से बुधवार दोपहर यहां पहुंचीं। हालांकि मुंबई पुलिस के बारे में उनके बयान के कारण शिवसेना कार्यकर्ताओं ने यहां हवाईअड्डे पर उनका विरोध किया।
एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि कंगना के यहां हवाईअड्डे पर आगमन के बाद उन्हें कड़ी सुरक्षा के बीच उपनगरीय खार स्थित उनके आवास ले जाया गया। कंगना चंडीगढ़ से विमान के जरिए अपराह्न करीब ढाई बजे मुंबई पहुंचीं। काले झंडे लिए शिवसेना कार्यकर्ताओं को हवाईअड्डे के बाहर देखा गया। कार्यकर्ताओं ने उनके खिलाफ नारेबाजी की।
आरपीआई (ए) और करणी सेना के कार्यकर्ता भी कंगना के समर्थन में वहां एकत्र थे।
आरपीआई (ए) के नेता एवं केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने घोषणा की थी कि कंगना के मुंबई आने पर उनकी पार्टी के कार्यकर्ता उनकी सुरक्षा करेंगे। ये सभी कार्यकर्ता हवाईअड्डे के टर्मिनल-2 के बाहर एकत्र थे।
अधिकारी ने बताया कि अभिनेत्री को केंद्रीय सुरक्षा बल और मुंबई पुलिस के कर्मी उन्हें सुरक्षा घेरे में हवाईअड्डे से बाहर ले गए। अभिनेत्री को केंद्र द्वारा वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराई गई है। खार स्थित उनके आवास के बाहर भारी संख्या में पुलिस तैनात है। आवास के पास शिवसेना के कुछ कार्यकर्ता भी जमा हैं। मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र के बारे में कंगना के एक हालिया बयान से विवाद खड़ा हो गया है।
उन्होंने दावा किया था कि वे मुंबई में असुक्षित महसूस करती हैं। इसके बाद शिवसेना के नेता संजय राउत ने उनसे मुंबई वापस नहीं आने को कहा था। राउत के इस बयान के बाद अभिनेत्री ने मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से की थी।
इस बीच बुधवार को बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने उनके बांद्रा स्थित बंगला में अवैध निर्माण को ध्वस्त करना शुरू किया। हालांकि, बंबई उच्च न्यायालय ने इस कार्य पर रोक लगा दी और यह जानना चाहा है कि बीएमसी ने उनके घर में कैसे प्रवेश किया, जब वहां कोई नहीं उपस्थित था।
मुख्यमंत्री ने की निंदा : हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने अभिनेत्री कंगना रनौत के मुंबई स्थित बंगले का एक हिस्सा नगर निकाय द्वारा ढहाए जाने की बुधवार को निंदा की और कहा कि वह राज्य की ‘एक बेटी हैं’ और और उन्हें उनके क्षेत्र में काम करने के लिए एक ‘उचित माहौल’ मिलना चाहिए।
देहरा से निर्दलीय विधायक होशियार सिंह द्वारा विधानसभा में उठाए गए व्यवस्था के प्रश्न पर मुख्यमंत्री ठाकुर ने कहा कि रनौत के कार्यालय को ढहाने का कदम एक चिंता का विषय है। ठाकुर ने कहा कि बॉलीवुड अभिनेत्री को एक नोटिस दिया गया था लेकिन प्रक्रिया पूरी किये बगैर ढहाने का कदम उठाया गया। ठाकुर ने कहा कि हम इस कदम की निंदा करते हैं। (इनपुट भाषा)

bhupendra

Next Post

Jio का बड़ा धमाका, दिसंबर तक लांच कर सकती है 10 करोड़ सस्ते एंड्राइड स्मार्टफोन

Wed Sep 9 , 2020
Jio का बड़ा धमाका, दिसंबर तक लांच कर सकती है 10 करोड़ सस्ते एंड्राइड स्मार्टफोन टेलीकॉम सेक्टर में धाक जमाने के बाद अब जियो (Jio) ने स्मार्टफोन सेक्टर में बड़ा धमाका करने के तैयार कर ली है। खबरों के अनुसार रिलायंस जियो इस वर्ष के आखिर तक 10 करोड़ सस्ते […]

You May Like

Breaking News