राहुल गांधी ने हाथरस कांड पर पीएम मोदी की चुप्पी पर उठाया सवाल, बोले- पीड़ित परिवार के साथ हो रहा है अन्याय

राहुल गांधी ने हाथरस कांड पर पीएम मोदी की चुप्पी पर उठाया सवाल, बोले- पीड़ित परिवार के साथ हो रहा है अन्याय

News

चंडीगढ़: कृषि कानून के खिलाफ अपने टैक्टर रैली के तीसरे और आखिरी दिन कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज एकबार फिर केंद्र सरकार पर जोरदार हमला किया। राहुल ने पटियाला में पत्रकारों से बात की और कृषि कानूनों को लेकर अपनी बात रखी। इस दौरान उनके साथ पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला भी मौजूद रहे।

राहुल गांधी ने कहा कि हमारी ये यात्रा मोदी सरकार के तीन काले कानूनों के खिलाफ है। ये मौजूदा सिस्टम को खत्म करने का तरीका है, पहले नोटबंदी, फिर जीएसटी और अब ये कानून लाया जा रहा है। उन्होंने हम पंजाब और हरियाणा के किसानों की लड़ाई लड़ रहे हैं।मोदी सरकार द्वारा कृषि कानूनों की शुरूआत खाद्य सुरक्षा के मौजूदा ढांचे को नष्ट करने का एक तरीका है और यह पंजाब राज्य को सबसे अधिक प्रभावित करने वाला है। यह हमारे किसानों के ऊपर हमला है।

Rahul Gandhi, Tractor Rally

उन्होंने आगे कहा कि मुझे लगता है कि खुद प्रधानमंत्री नरेंदेर मोदी को भी ये तीन कृषि कानून समझ नहीं आते हैं। 6 महीने बाद देश में ना रोजगार होगा और ना ही भोजन होगा, क्योंकि सिस्टम को तोड़ दिया गया। लेकिन मेरी इस बात का फिर मज़ाक उड़ाया जाएगा। मोदी सरकार ने इन कानूनों को लेकर सबकुछ तोड़ दिया। आज कम मंडियां हैं, कुछ जगह भ्रष्टाचार है लेकिन किले को ही तोड़ दिया तो किसान नहीं बचेगा।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी बोले कि ‘पीएम ने कहा था कि हिंदुस्तान की ज़मीन किसी ने नहीं ली, लेकिन 1200 स्क्वायर किमी जमीन चीन ने ली है। चीन को पता है कि मोदी सिर्फ अपनी इमेज की रक्षा करता है और इमेज बचाने के लिए जमीन हमें मिल जाएगी।ये लोग भारत माता की बात करते हैं लेकिन भारत माता की जमीन ही चीन को दे दी।’

राहुल गांधी ने आगे कहा कि पहले नोटबंदी हुई तो गरीब लोगों पर हमला हुआ, जीएसटी आया तो कारोबारियों पर हमला हुआ और फिर आपने अचानक लॉकडाउन कर दिया, गरीब सड़क पर मर गया। उन्होंने कहा कि जब मैंने कोरोना की बात की तो उन लोगों ने मजाक उड़ाया। एक व्यक्ति कह रहा है कि 20-21 दिन में लड़ाई खत्म हो जाएगी, उन्हें ये ही नहीं पता कि कोरोना क्या है।

साथ ही राहुल गांधी ने हाथरस के लिए पहली यात्रा के दिन अपने साथ हुए पुलिसिया बर्ताव पर कहा, ‘मुझे थोड़ा सा धक्का लग गया तो कोई फर्क नहीं पड़ता लेकिन पूरे देश को धकेला जा रहा है। काम है, देश की जनता का रक्षा करना। ऐसी सरकार के खिलाफ हम खड़े होंगे तो धक्का लगेगा, लाठी लगेगी खा लेंगे।’ उन्होंने आगे कहा कि ‘आप सिर्फ मानिए कि किसी ने आपकी बेटी को मार दिया। अब न्याय मांगने गए तो आपको डीएम धमकी दे रहा है। आप क्या फील करेंगे?’

उन्होंने आगे कहा कि ‘मैंने पीड़िता के परिवार से कहा, ‘मैं आपकी बेटी के लिए आया हूं, देश में लाखों महिलाओं के साथ रोज बदमतीमीजी होती है, हजारों महिलाओं के साथ रेप होता। उनके लिए भी यहां आया हूं।’ बच्ची का रेप होता है पूरा प्रशासन परिवार पर आक्रमण करता है और देश के पीएम एक शब्द नहीं कहते।’

उन्होंने आगे कहा कि सिर्फ मेरे शब्द नहीं एक्शन पर भरोसा करें, मुझे पंजाब ने काफी कुछ दिया है। जब मेरी दादी ने चुनाव हारा तो घर में कोई नहीं था, लेकिन सिर्फ सिख ही थे। मेरी दादी को हमेशा सिखों ने बचाया, मैं हमेशा पंजाब का कर्जदार रहूंगा। अगर कुछ गलत हो रहा है, तो मैं आवाज़ जरूर उठाउंगा। मैं कमजोर के साथ खड़ा होता हूं, इसलिए शायद राजनीतिक करियर धीमा पड़ा है लेकिन मैं ऐसा ही हूं।

bhupendra

Next Post

कोरोना महामारी के बीच शाहिद कपूर को लगा 8 करोड़ का झटका, जानें वजह

Tue Oct 6 , 2020
कोरोना महामारी के बीच शाहिद कपूर को लगा 8 करोड़ का झटका, जानें वजह       मुंबई। कोरोना महामारी के बीच आम लोगों की तरह अब बॉलीवुड स्टार्स की जिंदगी भी धीरे-धीरे पटरी पर लौटने लगी है। कई स्टार्स ने अपने अपकमिंग प्रोजेक्ट्स की शूटिंग शुरू कर दी है। इन्हीं स्टार्स […]

Breaking News