करौली : पुजारी परिवार का धरना खत्म, राजस्थान सरकार देगी 10 लाख, पक्का मकान और सरकारी नौकरी

करौली : पुजारी परिवार का धरना खत्म, राजस्थान सरकार देगी 10 लाख, पक्का मकान और सरकारी नौकरी

राजस्थान के करौली जिले के सपोटरा में पुजारी बाबूलाल वैष्णव की हत्या के बाद से धरने पर बैठे परिवार की मांगों को अशोक

सरकार ने मान लिया है। इसके बाद पीड़ि‍त परिवार धरने पर बैठ गई थी।

खबरों के मुताबिक राजस्थान सरकार पीड़ित परिवार को 10 लाख रुपए, प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत डेढ़ लाख रुपए का मकान और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देगी। मामले की जांच के लिए एक एसआईटी का गठन भी किया जाएगा।
पुजारी बाबूलाल के परिवार ने शनिवार को अंतिम संस्कार से मना कर दिया था। इसके बाद से प्रशासन लगातार परिवार को मनाने में जुटा था ताकि वह अपना धरना खत्म कर दे।
परिवार ने रखी थीं ये मांगें : पुजारी बाबूलाल के रिश्तेदार ललित ने 50 लाख रुपए मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी मिले। सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया जाना चाहिए और आरोपियों का समर्थन करने वाले पटवारी और पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए। पुजारी के परिवार को सुरक्षा भी मिलनी चाहिए।
आरोपी गिरफ्तार : करौली जिले के सपोटरा क्षेत्र के बूकना गांव में एक मंदिर के पुजारी की जलाकर हत्या के मामले के मुख्य आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
मुख्यमंत्री ने दिया दोषियों पर कार्रवाई का आश्वासन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा है कि सपोटरा में बाबूलाल वैष्णवजी की हत्या अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण एवं निंदनीय है, सभ्य समाज में ऐसे कृत्य का कोई स्थान नहीं है। प्रदेश सरकार इस दुखद समय में शोकाकुल परिजनों के साथ है। घटना के प्रमुख आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है एवं कार्रवाई जारी है। दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।
करौली पुलिस अधीक्षक मुदुल कच्छावा के अनुसार इस मामले के मुख्य आरोपी कैलाश मीणा को गुरुवार देर रात गिरफ्तार कर लिया गया हैं। पुलिस अन्य आरोपियों के बारे में भी महत्वपूर्ण सुराग मिले हैं और उन्हें भी शीघ्र गिरफ्तार कर लिया जाएगा। आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस की विभिन्न टीमें भेजी गई हैं।
उन्होंने बताया कि इस मामले में पहले दंड संहिता की धारा 307 में मामला दर्ज किया गया था, लेकिन अब पुजारी की कल शाम को जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में मौत हो जाने के बाद इसे 302 में दर्ज किया गया हैं।
उल्लेखनीय है कि मंदिर की जमीन को बुधवार को गांव के राधा गोपाल मंदिर के पुजारी बाबूलाल वैष्णव को जलाकर हत्या करने का प्रयास का मामला सामने आया था। आग में गंभीर रूप से झुलसे पुजारी को इलाज के लिए जयपुर के एसएमएस अस्पताल लाया गया, लेकिन गुरुवार शाम को पुजारी ने दम तोड़ दिया।

bhupendra

Next Post

Bihar Election 2020: बिहार चुनाव में कांग्रेस के स्टार प्रचारकों का ऐलान

Sat Oct 10 , 2020
Bihar Election 2020: बिहार चुनाव में कांग्रेस के स्टार प्रचारकों का ऐलान     नई दिल्ली: कांग्रेस ने 28 अक्टूबर को होने वाले बिहार चुनाव के पहले चरण के लिए 30 स्टार प्रचारकों की सूची जारी कर दी है। इस सूची में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, […]