NEET 2020 Toppers: 720 में से 720 अंक होने के बावजूद आकांक्षा सिंह को मिली दूसरी रैंक, ये रही बड़ी वजह

NEET 2020 Toppers: 720 में से 720 अंक होने के बावजूद आकांक्षा सिंह को मिली दूसरी रैंक, ये रही बड़ी वजह

News

 

नई दिल्ली: नीट (NEET 2020 Toppers) का परिणाम शुक्रवार को जारी कर दिया गया। नीट के इतिहास में पहली बार दो विद्यार्थियों ने 720 में से 720 अंक हासिल किए हैं। ओडिशा के शोएब आफताब और दिल्ली की आकांक्षा सिंह ने 720 में से 720 अंक हासिल किए हैं। दोनों का परसेंटाइल स्कोर 99.9998537 है। एनटीए की ओर से जारी प्रेस रिलीज में शोएब आफताब (Soyeb Aftab) को रैंक 1 और आकांक्षा (Akansha Singh) को रैंक 2 दी गई है।

आकांक्षा सिंह को 720 में से 720 अंक और एक जैसी परसेंटाइल होने के बावजूद भी दूसरी रैंक मिली है। जबकि तीसरे तेलंगाना की छात्रा तुमाला स्निकिता रही हैं। चौथी रैंक पर राजस्थान के विनीत शर्मा और पांचवी पर हरियाणा की अमरीशा खेतान रही हैं। नीट टॉपर्स में छात्राओं का वर्चस्व रहा है। उल्लेखनीय है कि न्यूज 24 ने ही सबसे पहले बताया था कि देश में दो विद्यार्थी 720 में से 720 अंक लाने में कामयाब रहे हैं।

आकांक्षा की दूसरी रैंक क्यों? 

न्यूज 24 से एक्सक्लूसिव बातचीत में एनटीए के डायरेक्टर जनरल विनीत जोशी ने बताया कि आकांक्षा की शोएब आफताब की तरह 720 अंक होने के बावजूद दूसरी रैंक इसलिए आई है, क्योंकि नियमानुसार रैंक निकालने के लिए विद्यार्थियों के पहले बायोलॉजी के नंबर, फिर कैमिस्ट्री के नंबर फिर नेगेटिव अंक देखे जाते हैं।

 

इसके बाद सबसे महत्वपूर्ण पहलु यह है कि जो उम्र में जो बड़ा होता है उसे रैंक में उपर रखा जाता है। इस मामले में दोनों विद्यार्थियो के एक जैसे अंक थे, इसलिए जन्मतिथि के आधार पर शोएब को रैंक 1 पर रखा गया है क्योंकि उनकी उम्र ज्यादा है।

bhupendra

Next Post

सरकार जल्द ही बेटियों की शादी के लिए सही उम्र तय करेगी: पीएम मोदी

Fri Oct 16 , 2020
सरकार जल्द ही बेटियों की शादी के लिए सही उम्र तय करेगी: पीएम मोदी       नई दिल्‍ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को देश की बेटियों को आश्वासन दिया कि सरकार जल्द से जल्द शादी के लिए सही उम्र तय करेगी, क्योंकि संबंधित समिति अपनी रिपोर्ट देगी। उन्‍होंने कहा कि […]

Breaking News