राजस्थान के जालोर में हैवानियत, दो ना​बालिग बहनों के साथ 6 युवकों ने किया गैंगरेप, पीड़िताओं को नहीं मिल पाई एम्बुलेंस

राजस्थान के जालोर में हैवानियत, दो ना​बालिग बहनों के साथ 6 युवकों ने किया गैंगरेप, पीड़िताओं को नहीं मिल पाई एम्बुलेंस

News

जयपुर: राजस्थान के जालोर में दो नाबालिग लड़कियों का अपहरण और फिर गैंगरेप का दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यह घटना जालोर  के भीनमाल इलाके में हुई। कहा जा रहा है कि 6 से भी ज्यादा लोगों ने इन दोनों नाबालिग लड़कियों के साथ दरिंदगी की और फिर पहाड़ी इलाकों में फेंक दिया। अस्पताल में इलाज करवा रही लड़की हैवानियत और दरिंदगी की कहानी बयां कर रही है। ताकि उन्हें ताउम्र एसा जख्म देने वाले लोगों को सख्त सजा दिलवा सके, दरअसल राजस्थान के जालौर जिले के भीनमाल इलाके में दरिंदगी की यह भयावह वारदात सामने आई है।

आरोप है कि आधा दर्जन युवक एक गांव से दो नाबालिग लड़कियों को उठाकर ले गए और उनके साथ पहाड़ियों पर गैंगरेप किया। ये दोनों चचेरी बहनें थीं, जिन्हें ये हैवान रेप करने के बाद पहाड़ी क्षेत्र में फेंक कर भाग गए।  स्थानीय लोगों की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और पुलिस ने भी उनके साथ जो बर्ताव किया वो मानवता को शर्मसार करने वाला था। पुलिस उन्हें ऑटो रिक्शा में लिटाकर लेकर आई। इन हालात में भी इन पीड़िताओं को एम्बुलेंस नसीब नहीं हुई।

जालौर कलेक्टर हिमांशु गुप्ता का कहना है कि हमने परिक्षण करवा दिया है। डॉक्टर साहब से भी बातचीत की है इनकी हेल्थ को लेकर। इन्हें फिलहाल किसी तरह का कोई खतरा नहीं है। इनके अभिभावकों से भी बातचीत की गई है। आश्वाशन दिया गया है कि पुलिस जांच में कोई देरी नहीं करेगी। FIR में 4 आरोपियों का नाम है, इनमें से तीन को गिरफ्तार कर लिया है बाकी एक की तलाश जारी है।

पुलिस ने जांच के बाद बताया कि भीनमाल क्षेत्र के एक गांव में अपने घर पर सो रही इन दोनों नाबालिग चचेरी बहनों का शनिवार रात चार युवकों ने अपहरण कर लिया। इसके बाद इन बच्चियों को एक सुनसान स्थान पर ले जाकर उनके साथ दुष्कर्म किया गया और बाद में इन दोनो बच्चियों को राजपुरा की पहाड़ियों पर फेंककर फरार हो गए। रात को ठंड होने के कारण दोनों की सर्दी के कारण हालत ज्यादा बिगड़ गई। परिजनों ने दोनों बच्चियों की रात भर तलाश की। बाद में दोनों बच्चियां पहाड़ियों पर मिली। अचेत और घायल हालत में उन्हें उपचार के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया है। इनमें एक की हालत गंभीर है।

स्थानीय विधायक पुराराम चौधरी का कहना है कि अभी एक या 2 आरोपी पकड़े जाने बाकी हैं। जल्द ही उन्हें पकड़ लिया जाएगा। कलेक्टर और SP साहब से बातचीत की साथ ही CM साहब से भी बातचीत की है। इसमें राजनीति नहीं होनी चाहिए। आरोपी जो भी हो उसे कानून कड़ी से कड़ी सजा दे।

सीआई मोटाराम का कहना है कि दो पीडिताएं हैं। उनके परिजनों ने इनके लापता होने की शिकायत मिली थी, जिन्हें की खोज लिया गया है। उनका इलाज चल रहा है। मेडिकल बोर्ड से उनका मेडिकल कराया जा रहा है। जिनका नाम उन्होंने बताया है उसमें से चेतन नाम के आरोपी को पकड़ लिया गया है। अशोक और पीराराम को भी हिरासत में लिया गया है और पूछताछ की जा रही है।

परिजनों ने लगाया आरोप 

मामले की जांच शुरू हुई तो इस सामूहिक बलात्कार के मामले में अभी 3 आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है बाकी के आरोपियों की तलाश की जा रही है। वैसे इस मामले में परिजनों ने पुलिस पर भी गंभीर आरोप लगाए और कहा कि रविवार सुबह 6 बजे दो लड़कियों के लापता होने की सूचना पुलिस को दी गई थी इसके बावजूद पुलिस ने खोजबीन में देरी की। बाद में दोनों ही लड़कियां पहाड़ी पर घायल अवस्था में मिलीं।

यहां तक की परिजनों ने चेतनराम, अशोक, तेजाराम, पीराराम भील और दो अन्य आरोपियों के नाम भी पुलिस को इस घटना के दोषियों के रूप में दिए हैं और पीडिता ने भी होश में आने के बाद पुलिस को बयान देकर गैंगरेप की घटना बताते हुए इन नामों की पुष्टि की है बावजूद इन्हें अब तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। फिलहाल तो पुलिस की चार टीमें आरोपियों की तलाश में उनके संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है, लेकिन अभी तक आरोपियों का कोई सुराग नहीं लग पाया है।


bhupendra

Next Post

जमीनी विवाद में छोटे भाई की काटी गर्दन, बचाव में उतरी पत्नी, तो दी ये सजा

Mon Oct 19 , 2020
जमीनी विवाद में छोटे भाई की काटी गर्दन, बचाव में उतरी पत्नी, तो दी ये सजा     नई दिल्लीः बिहार में इन दिनों विधानसभा चुनाव की सरगर्मी जोरो पर है। राज्य सरकार अपने सुशासन के दावे को लेकर विपक्षी पार्टियों के निशाने पर है, जिसकी वजह आय दिन आपराधिक घटनाएं है। […]