कोरोना वायरस को लेकर एम्स निदेशक ने चेताया

कोरोना वायरस को लेकर एम्स निदेशक ने चेताया

News

 

नई दिल्ली: कोरोना वायरस से संक्रमण के मामले दिल्ली समेत कई राज्यों में तेजी से बढ़ रहे हैं। फ्रांस और ब्रिटेन कोरोना की दूसरी लहर का सामना करने के लिए तैयार हैं। फ्रांस ने अपने देश में दूसरे लॉकडाउन की घोषणा कर दी है। इस बीच भारत में भी कोरोना की तीसरी लहर की चर्चा तेज हो गई है।

इस बारे में एम्स के निदेशक डॉक्टर गुलेरिया का कहना है कि प्रदूषण के कारण वायरस ज्यादा देर तक हवा में रहता है। प्रदूषण और वायरस, दोनों ही फेफड़े को प्रभावित करते हैं। उनका कहना है कि कोरोना वायरस अभी खत्म नहीं हुआ। कई देशों में इसका प्रकोप जारी है। उन्होंने कहा, मास्क जरूर लगाएं। जरूरी काम न हो तो बाहर न जाएं। डॉक्टर गुलेरिया ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि हम सावधानी नहीं बरतेंगे तो और भी ज्यादा मामले सामने आएंगे.

एम्स के निदेशक ने कहा कि युवा वायरस को लेकर लापरवाह हैं। उन्हें लगता है कि माइल्ड इंफेक्शन होगा और हमें कुछ करने की जरूरत नहीं है। इस धारणा को गलत बताते हुए डॉक्टर गुलेरिया ने कहा कि युवा वायरस को घर ले जा रहे हैं और बुजुर्ग प्रभावित हो रहे हैं।

प्रदूषण और कोरोना की दोहरी चुनौती को लेकर एम्स के निदेशक ने कहा कि जब तक बेहद जरूरी न हो, बाहर न जाएं. जाना जरूरी भी हो तो मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए धूप निकलने के बाद जाएं। उन्होंने कहा कि कोरोना से संक्रमण के मामले कम हो रहे हैं. दिवाली के बाद तक मामले कम होते रहे तो कह सकेंगे कि पीक खत्म हो गया है। हमें आने वाले कुछ हफ्ते तक अधिक सतर्क रहने की जरूरत है। गुलेरिया का कहना है कि त्योहारों में विशेष सावधानी रखने की जरूरत है। सर्दियां बढ़ने पर स्वास्थ्य की देखभाल जरूरी है।

bhupendra

Next Post

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने सुनाया अहम फैसला, कहा- केवल शादी के लिए धर्म परिवर्तन वैध नहीं

Fri Oct 30 , 2020
इलाहाबाद हाई कोर्ट ने सुनाया अहम फैसला, कहा- केवल शादी के लिए धर्म परिवर्तन वैध नहीं मुजफ्फरनगर के विवाहित जोड़े ने परिवार वालों को उनके शांतिपूर्ण वैवाहिक जीवन में हस्तक्षेप करने पर रोक लगाने की मांग की थी. लेकिन, कोर्ट ने याचिका पर हस्तक्षेप करने से इनकार करते हुए उसे […]

Breaking News