POLITICS जेपी नड्डा का RJD पर वार; कहा- बिहार से लोगों के पलायन के लिए जंगलराज के युवराज जनता से मांगें माफी 

POLITICS

जेपी नड्डा का RJD पर वार; कहा- बिहार से लोगों के पलायन के लिए जंगलराज के युवराज जनता से मांगें माफी

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने RJD नेता तेजस्वी यादव के 10 लाख नौकरी देने के वादे पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि, ‘कोरोना काल में बिहार छोड़कर दिल्ली भागने, विधानसभा के सत्र में अनुपस्थित रहने और RJD के 15 सालों के शासनकाल में लोगों को राज्य से पलायन को मजबूर करने के लिए ‘जंगलराज के युवराज’ को बिहार की जनता से माफी मांगनी चाहिए।’

नड्डा ने आगे कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संक्रमण के समय में गरीबों की चिंता की और छठ तक राशन की व्यवस्था की।

उन्होंने कहा, ‘आज ये 10 लाख रोजगार देने की बात कर रहे हैं। लालू जी के राज में लाखों लोग बिहार से पलायन कर गए, उसका जवाब कौन देगा? राजद के जंगलराज में बिहार में रंगदारी, रंगबाजी, लूट-खसोट होती थी। लालू के राज में शहाबुद्दीन को संरक्षण मिलता था। इन्होंने प्रदेश में अराजकता फैलाई।’

महागठबंधन के नेता पर घड़ियाली आंसू बहाने का आरोप लगाते हुए नड्डा ने कहा, ‘अपने कारनामों के लिए इन्हें बिहार की जनता से माफी मांगनी चाहिए। यह चुनाव बिहार के भविष्य का है। हमें तय करना है कि हमें राज्य को किस ओर ले जाना है।’

नड्डा ने कहा, ‘एनडीए की सरकार में नेताओं के नाम विकास कार्यों से जुड़ गए हैं। कोई सड़क वाला मंत्री, कोई पानी वाला मंत्री, कोई बिजली वाला मंत्री। लेकिन पहले क्या होता था- ये अपहरण वाला मंत्री, ये लोगों को डराने वाला मंत्री, ये जेल में रहने वाला मंत्री। ये अंतर है दोनों में।’

बता दें, इससे पहले नीतीश कुमार ने बिहार के एक चुनावी रैली में ऐलान किया है कि ये चुनाव उनका आखिरी चुनाव है। इस बार बिहार में नीतीश कुमार की पार्टी JDU, बीजेपी-VIP-HAM एक साथ मिलकर चुनाव लड़ रही है। सीएम पद के उम्मीदवार नीतीश कुमार हैं। NDA का मुकाबला महागठबंधन से है जिसमें RJD-कांग्रेस और लेफ्ट पार्टी है। वहीं महागठबंधन के सीएम उम्मीदवार तेजस्वी यादव हैं।

गौरतलब है कि बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे और अंतिम चरण के लिए शनिवार को 78 सीटों पर मतदान होंगे। वोटों की गिनती 10 नवंबर को होगी।

bhupendra

Next Post

‘आपातकाल के दौरान भी अर्नब जैसी गिरफ्तारी नहीं देखी’: पत्रकार पी राजन 

Thu Nov 5 , 2020
GENERAL NEWS ‘आपातकाल के दौरान भी अर्नब जैसी गिरफ्तारी नहीं देखी’: पत्रकार पी राजन रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी की दिग्गज पत्रकार पी राजन ने कड़ी निंदा की है। आपातकाल के दौरान गिरफ्तार किए गए पत्रकार ने कहा कि उन्होंने ‘आपातकाल के दौरान भी इस तरह […]

You May Like