दीपावली पर ऐसे करें अष्टलक्ष्मी का ध्यान और हो जाएं मालामाल

दीपावली पर ऐसे करें अष्टलक्ष्मी का ध्यान और हो जाएं मालामाल

News

दीपावली के त्यौहार पर सभी समुदाय के लोग धनागमन की आशा करते हैं। इस वर्ष यह पावन पर्व 13 से 15 नवंबर 2020 को है। आय तथा धन बढ़ाने हेतु लक्ष्मी जी को पूजा की जाती है।

महत्वपूर्ण तिथि 

13 नवंबर 2020 को चित्रा नक्षत्र में धनतेरस

14 नवंबर को स्वाति नक्षत्र में श्री महालक्ष्मी जी (दिवाली) की पूजा

15 नवंबर को विशाखा नक्षत्र में गोवर्धन पूजा

संपूर्ण पर्व के दौरान सूर्य बृहस्पति के नक्षत्र विशाखा में भ्रमण करेगा। दीपावली पर अपने घर में विषम संख्या में दीपक जलाने चाहिए। गाय को रोटी अवश्य देवें।

साधारण व सरल विधि से पूजा करनी चाहिए। सामान्यतया अष्ट लक्ष्मी (वीर लक्ष्मी, गजलक्ष्मी, संतान लक्ष्मी, विजयलक्ष्मी, धानलक्ष्मी तथा ऐश्वर्या लक्ष्मी की पूजा अपने हाथ में पुष्प रखकर की जाती है।

पूजा स्थिर लग्न में श्रेष्ठ कहीं जाती है। इस बार वृष लग्न का समय शाम 5:37 से 7:34 बजे तक तथा सिंह लग्न राशि में 12: 7 से होगा।

श्री गणेश, सरस्वती, मां लक्ष्मी व कुबेर की स्थापना करें। गणेश वंदना के बाद लक्ष्मी को निम्नानुसार प्रसन्न करें।

ऊं आद्य लक्षम्यै नम: 

 

ऊं विद्या लक्ष्म्यै नम: 

 

ऊं सौभाग्य लक्ष्म्यै नम: 

 

ऊं अमृत लक्ष्म्यै नम: 

 

ऊं काम लक्ष्म्यै नम: 

 

ऊं काम लक्ष्म्यै नम: 

 

ऊं सत्य लक्ष्म्यै नम:  

 

ऊं भोग लक्ष्म्यै नम: 

 

ऊं योग लक्ष्म्यै नम:

मूंग की दाल, हलवा, ईख तथा चावल का प्रसाद चढ़ाएं। पंचामृत से स्नान करवाकर श्री महालक्ष्मी के पुष्प के साथ मंत्र बोलें। आपके घर में धन आना प्रारंभ हो जाएगा।


bhupendra

Next Post

Dhanteras 2020: धनतेरस पर अपनी राशि के हिसाब से करें खरीदारी, मां लक्ष्मी कर देंगी मालामाल

Wed Nov 11 , 2020
Dhanteras 2020: धनतेरस पर अपनी राशि के हिसाब से करें खरीदारी, मां लक्ष्मी कर देंगी मालामाल      इस साल 14 नवंबर को दिवाली है  और दिवाली से पहले धनतेरस (Dhanteras)का त्योहार मनाया जाता है। हिंदू धर्म के अनुसार हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को धनतेरस  का […]