नीतीश नहीं बनेंगे बिहार में सीएम! मुख्‍यमंत्री बनने के सवाल पर दिया ये जवाब

नीतीश नहीं बनेंगे बिहार में सीएम! मुख्‍यमंत्री बनने के सवाल पर दिया ये जवाब

News

 

नई दिल्‍ली: बिहार में सरकार बनाने को लेकर कवायद तेज हो गई है। इस बीच आज NDA अपनी 4 सहयोगी पार्टियों के नेताओं की साथ बैठक करेगा। वहीं जब नीतीश के सीएम के नाम के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ये निर्णय NDA को करना है। हालांकि ऐसा माना जा रहा है कि नीतीश खुद अपने नाम की घोषणा नहीं करना चाह रहे हैं और वह चाहते हैं कि इसके बारे में NDA की तरफ से मीडियो को जानकारी दी जाए। इसके साथ ही यह भी बताया जा रहा है कि बैठक में आज शपथ ग्रहण समारोह की तारीख का भी ऐलान हो सकता है।

नीतीश कुमार ने कहा कि राजग की बैठक में तय होगा कि मुख्यमंत्री कौन होगा। पटना में जदयू कार्यालय में नवनिर्वाचित विधायकों और चुनाव में प्रत्याशियों के साथ बैठक के बाद एक कहा कि राजग विधायक दल की बैठक को लेकर अभी कोई तिथि तय नहीं हुई है। इस बैठक में मुख्यमंत्री कौन होगा तय कर लिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि संभव है कि शुक्रवार को राजग के घटक दलों के नेता आपस में बैठेंगे, उसके बाद राजग के विधायक दल की बैठक की तारीख तय की जाएगी। शपथ ग्रहण समारोह के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि अभी इसकी कोई तारीख तय नहीं हुई है।जदयू के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने बिना किसी के नाम लिए हुए लोजपा और राजद को निशाने पर लेते हुए कहा, “अगर हमारे काम करने के बावजूद भी कोई भ्रमित करने में कामयाब होता है और लोग भ्रमित होकर वोट करते हैं तो ये उनका अधिकार है। मैंने लोगों की सेवा की है।”

उन्होंने कहा कि कुछ ने लोगों को भ्रमित करने का पूरा प्रयास किया और कामयाब भी हुए। जदयू को कम सीट आने पर उन्होंने कहा, “हमलोगों की सीट पर कैसे वोट बांटा गया वो देख रहे हैं। गठबंधन और पार्टी के लोग देख रहे हैं कि कहां क्या हुआ है।”

बिहार का अगला मुख्यमंत्री कौन बनेगा, का जवाब देते हुए नीतीश ने कहा, “मैं कहां कोई दावा कर रहा हूं? निर्णय राजग द्वारा लिया जाएगा। हमारा अभियान पूरे राजग के लिए था, लेकिन प्रत्याशी नहीं होने के बावजूद ढूंढ़-ढूंढ़कर सिर्फ हमारी ही सीटों पर उम्मीदवार खड़े कर नुकसान पहुंचाया गया।”

उन्होंने कहा कि यह भाजपा को देखना है। हालांकि यह भी कहा कि एक-एक सीटों पर विश्लेषण किया जा रहा है।

नीतीश ने एकबार फिर क्राइम, करप्शन और कम्युनलिज्म से समझौता न करने की बात करते हुए कहा कि राजग की सरकार बनने के बाद तय किया जाएगा कि काम कैसे किया जाएगा, इसकी योजना बनाई जाएगी।

उन्होंने कहा कि काम करनेवाले को अगर कोई अपमानित करेगा, तो बिना काम करनेवाले आएंगे, तो क्या होगा। इस चुनाव में कई ऐसी चीजें भी प्रचारित की गई जो कभी पूरी हो ही नहीं सकी। नीतीश कुमार ने कहा कि राजग को बहुमत है, सरकार चलाने में कोई परेशानी नहीं होगी।


bhupendra

Next Post

मुख्यमंत्री से भारतीय विदेश सेवा की अधिकारी सुश्री बरखा ताम्रकार ने मुलाकात की छत्तीसगढ़ को अंतर्राष्ट्रीय ब्रांड के रूप में प्रोमोट करने के सम्बंध में किया विचार-विमर्श

Fri Nov 13 , 2020
मुख्यमंत्री से भारतीय विदेश सेवा की अधिकारी सुश्री बरखा ताम्रकार ने मुलाकात की छत्तीसगढ़ को अंतर्राष्ट्रीय ब्रांड के रूप में प्रोमोट करने के सम्बंध में किया विचार-विमर्श मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से गत दिवस उनके निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ की भारतीय विदेश सेवा की प्रथम महिला अधिकारी सुश्री बरखा ताम्रकार […]