खरसिया में अव्यवस्थाओं एवं असुरक्षा के संचालित किया जा रहा है फटाखा दुकान- कभी भी हो सकती है अनहोनी घटना

खरसिया में अव्यवस्थाओं एवं असुरक्षा के संचालित किया जा रहा है फटाखा दुकान- कभी भी हो सकती है अनहोनी घटना

खरसिया- दीपावली के मद्देनजर खरसिया टॉउन हॉल में संचालित फटाखा दुकान अव्यवस्था एवं असूरक्षा  की भेंट चढ़ चुका है। जिला प्रसाशन एवं राज्य सरकार द्वारा निर्धारित सुरक्षा मापदंडों का नही किया जा रहा है पालन जहां सोसल डिस्टनसिंग की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही है। वहीं आगजनी से  सुरक्षा के लिए कोई ठोस इंतजाम नही किया गया है। न ही उक्त स्थान पर पानी के टैंकर ही तैनात है,न ही रेत एवं अग्निशमन यंत्रो की व्यवस्था की गई है। इतना ही नही छोटे-छोटे नाबालिग बच्चों को उक्त फटाखा दुकानों में रखा गया है। फटाखा दुकानों से निकलने वाली पन्नियों एवं कचरों को भी नही हटाया गया है ।
कभी भी बच्चों की शरारत से हो सकती है आगजनी की भीषण दुर्घटना। नगरपालिका के द्वारा टॉउन हाल में संचालित उक्त लगभग 25 दुकानों से लाखों रु की राशि किराये के तौर पर वसूल की गई है लेकिन सुरक्षा एवं सफाई की कोई व्यवस्था नही की गई है। सुरक्षा में तैनात सुरक्षा कर्मियों के द्वारा भी उक्त फटाखा दुकान संचालकों की लापरवाही पर कोई ठोस व्यवस्था एवं हिदायत देने की बजाय उल्टे नजराना के रूप में फटाखा वसूलते देखा जा सकता है। स्थानीय मीडिया के द्वारा भी उक्त मामले में शासन प्रशासन का ध्यान आकर्षण कराने  के बजाय लिफाफा एवं चांदी के सिक्के लेने में ज्यादा रुचि दिखाई दे रही है। खरसिया के हृदय स्थल में संचालित उक्त फटाखा विक्रेताओं द्वारा अपने निर्धारित शर्तो के विपरीत स्टेशन रोड के भीड़भाड़ वाले रिहायसी एवं व्यवसायिक इलाके में सुमन सेंटर,श्रीराम स्टोर्स,अनूप बर्तन भंडार सहित अनेकों दुकानों में खुलेआम सड़को के ऊपर फटाखा का अवैध रूप से विक्रय किया जा रहा है।
खरसिया में स्थानीय प्रशासन को आम नागरिक के सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए तत्काल उक्त दुकानों पर अवैध फटाखा विक्रय पर रोक लगाने की आवश्यकता है। खरसिया टाउन हॉल में चारो तरफ बिखरी पन्नियों एवं कचरों को हटाते हुए सुरक्षा के दृष्टिकोण से फायर ब्रिगेड,पानी टैंकर,रेत ,अग्निशमक यंत्रो की व्यवस्था के साथ स्वास्थ्य विभाग की टीम भी तैनात किया जाना चाहिए।
कोरोना के बड़ते संक्रमण को देखते हुए मास्क एवं सोसल डिस्टेंसिंग का पालन भी कराना चाहिए ताकि सही मायने में सुरक्षा एवं संक्रमण के बचाव के  सांथ दीपावली मनाया जा सके।

 

bhupendra

Next Post

POLITICS नीतीश कुमार ने राज्यपाल को इस्तीफा सौंपा, विधानसभा भंग करने की सिफारिश की

Sat Nov 14 , 2020
POLITICS नीतीश कुमार ने राज्यपाल को इस्तीफा सौंपा, विधानसभा भंग करने की सिफारिश की बिहार के राज्यपाल फागू चौहान ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनकी मंत्रिपरिषद के त्यागपत्र को स्वीकृति प्रदान करते हुए अगली मंत्रिपरिषद के गठन तक उन्हें पद पर (कार्यवाहक मुख्यमंत्री) बने रहने को कहा । […]

You May Like

Breaking News